Monday, March 4, 2024

Wimbledon final: 35वीं बार ग्रैंडस्लैम के फाइनल में पहुंचने वाले पहले खिलाड़ी बने जोकोविच

India News (इंडिया न्यूज़),Wimbledon final: नोवाक जोकोविच और कार्लोस अलकराज दोनों ने विंबलडन में पुरुष एकल चैम्पियनशिप के फाइनल में जगह बना लिया है। शुक्रवार के पहले सेमीफाइनल में, जोकोविच ने जानिक सिनर को हराकर अपने नौवें विंबलडन फाइनल में प्रवेश किया।यह ग्रैंड स्लैम टूर्नामेंटों में उनका 35वां फाइनल हैं। टेनिस इतिहास में यह कारनामा करने वाले वह पहले खिलाडी हैं। इससे पहले कोई भी महिला या पुरुष या महिला ने 35 ग्रैंड स्लैम फाइनल नहीं खेला है। विश्व के दूसरे नंबर के खिलाड़ी सर्बिया के नोवाक जोकोविक ने शुक्रवार को इटली के जानिक सिनर को 6-3, 6-4, 7-6(4) से हराकर लगातार पांचवीं बार वर्ष के तीसरे ग्रैंडस्लैम विंबलडन के फाइनल में जगह बनाई।

 

फाइनल में अलकराज से होगा मुकाबला

अब रविवार को होने वाले खिताबी मैच में जोकोविक का सामना विश्व के नंबर एक खिलाड़ी स्पेन के कार्लोस अलकराज से होगा। 20 वर्षीय अलकराज एक अन्य सेमीफाइनल में डेनिल मेदवेदेव को लगातार सेटों में 6-3, 6-3, 6-3 से हराकर पहली बार इस टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंचे। अपने 24वें ग्रैंडस्लैम की तलाश में जुटे जोकोविक अगर रविवार को होने वाला फाइनल जीतने में सफल रहते हैं तो वह मार्गेट कोर्ट की बराबरी कर लेंगे, जिनके नाम इतने ही ग्रैंडस्लैम हैं।

लगातार चार बार के चैंपियन हैं जोकोविक

मौजूदा समय में पुरुषों में सर्वाधिक ग्रैंडस्लैम जीतने वाले जोकोविक विंबलडन में लगातार चार बार के चैंपियन हैं। उन्होंने 2018, 2019, 2021 और 2022 में यहां जीत दर्ज की थी। जोकोविक अगर लगातार पांचवीं बार विंबलडन की ट्रॉफी उठाने में कामयाब रहे तो वह स्विट्जरलैंड के रोजर फेडरर की बराबरी कर लेंगे, जिन्होंने यहां आठ ट्राफी जीती हैं। जोकोविक फेडरर और केन रोसवेल के बाद ओपन युग के तीसरे खिलाड़ी हैं जो 36 वर्ष की उम्र में विंबलडन के पुरुष सिंगल्स वर्ग के फाइनल में पहुंचे हैं।

 

मैं जोकोविच को हरा सकता हूं-अलकराज

वहीं अलकराज इस टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंचने वाले स्पेन के तीसरे खिलाड़ी हैं। उनसे पहले 1966 के चैंपियन मैनुअल सांताना और यहां दो बार के विजेता राफेल नडाल ऐसा कर चुके हैं। अलकराज ने शुक्रवार को अपने मैच के बाद कहा, “मुझे विश्वास है कि मैं जोकोविच को हरा सकता हूं। हर कोई जानता है कि वह एक महान व्यक्ति हैं। मैं लडूंगा। मैं खुद पर विश्वास रखूंगा। डरने का समय नहीं है, थकने का समय नहीं है।” बता दें जहां जोकोविच 24वीं ग्रैंड स्लैम एकल चैंपियनशिप का प्रयास कर रहे हैं, वहीं अलकराज सितंबर में यूएस ओपन जीतने के बाद अपनी दूसरी ग्रैंड स्लैम एकल चैंपियनशिप की तलाश में हैं। फाइनल में कैस्पर रूड को हराने से पहले जोकोविच ने पिछले महीने फ्रेंच ओपन सेमीफाइनल में अलकराज को हराया था।

 

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Share post:

Popular

More like this
Related